एमपीडब्ल्यू भर्ती: महेश्वर सिंह ने अपनी ही सरकार के मंत्री को घेरा, सीएम से मांगी जांच

0
24
पूर्व भाजपा विधायक महेश्वर सिंह


सुरेश शांडिल्य, अमर उजाला, शिमला
Published by: Krishan Singh
Updated Fri, 14 Jan 2022 11:25 AM IST

सार

मंत्री का नाम लिए बगैर महेश्वर सिंह ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से शिकायत की कि कुल्लू मंडल-एक के तहत भर्ती में गड़बड़ी हुई है। इस मंडल के तहत कुल्लू से 3 और मनाली विधानसभा क्षेत्र 30 लोगों की भर्ती हुई। सीएम ने उन्हें इस बारे में छानबीन करने के लिए आश्वस्त किया है। 

पूर्व भाजपा विधायक महेश्वर सिंह

पूर्व भाजपा विधायक महेश्वर सिंह
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

विस्तार

हिमाचल प्रदेश जलशक्ति विभाग में बहुउद्देश्यीय कार्यकर्ताओं की भर्ती पर विवाद खड़ा हो गया है। कुल्लू के पूर्व भाजपा विधायक और पूर्व सांसद महेश्वर सिंह ने इस भर्ती प्रक्रिया पर सवाल खड़े कर जांच मांगी है। महेश्वर सिंह ने गुरुवार सुबह मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के सरकारी आवास ओकओवर पहुंचकर भर्ती में गड़बड़ी होने के आरोप लगाए और अपना रोष जाहिर किया। मंत्री का नाम लिए बगैर महेश्वर सिंह ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से शिकायत की कि कुल्लू मंडल-एक के तहत भर्ती में गड़बड़ी हुई है। इस मंडल के तहत कुल्लू से 3 और मनाली विधानसभा क्षेत्र 30 लोगों की भर्ती हुई। सीएम ने उन्हें इस बारे में छानबीन करने के लिए आश्वस्त किया है। 

महेश्वर सिंह पिछली बार कुल्लू से भाजपा विधायक थे। मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर का विधानसभा हलका मनाली है। महेश्वर ने कहा कि जब पूछा गया कि कुल्लू विस हलके से इतने कम लोग कैसे भर्ती हुए तो इस पर बताया जाता है कि मेरिट के आधार पर ही भर्ती हुई है। महेश्वर सिंह ने सवाल उठाया है कि ऐसी क्या मेरिट है कि जो कुल्लू में नहीं मिलती है, जबकि मनाली में मिल जाती है। उन्होंने अफसरों पर मिलीभगत करने का आरोप लगाया। महेश्वर ने कहा कि कुल्लू का एक इलाका शमशी मंडल में भी आता है, वहां भी जितने लोग भर्ती किए जाने चाहिए थे, वे नहीं किए गए हैं। 

कुछ नहीं कहना मुझे : गोविंद 

मनाली के विधायक एवं शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने माना कि यह सही है कि कुल्लू और मनाली एक ही मंडल के तहत आते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। उन्हें इस बारे में कुछ नहीं कहना है। 

कोई गड़बड़ी नहीं की : महेंद्र सिंह ठाकुर 

जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा है कि  भर्ती मेरिट के आधार पर हुई है। इसमें गड़बड़ी नहीं हुई है। किसी पर कोई दबाव नहीं है, मेरिट में जो आता, वही भर्ती होता है। 

महेश्वर और गोविंद में चल रहा शीत युद्ध

कुल्लू में महेश्वर सिंह और गोविंद ठाकुर में विधानसभा चुनाव से पहले से ही शीत युद्ध चल रहा है। उनमें प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से कई बार व्यंग्य बाण चलते रहे हैं। महेश्वर सिंह भाजपा के बड़े नेता रहे हैं। वह मंडी लोकसभा सीट से कांग्रेस नेता पूर्व केंद्रीय संचार राज्य मंत्री पंडित सुखराम और सांसद प्रतिभा सिंह को भी चुनाव में हरा चुके हैं। 

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here