एम्स के पैनल ने सुशांत की हत्या की आशंका को खारिज किया, डॉ. सुधीर गुप्ता ने कहा- यह क्लियर कट खुदकुशी का मामला है

Posted on

19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून को उनके बांद्रा स्थित फ्लैट में पंखे से लटका मिला था। – फाइल फोटो

  • सुशांत की ऑटोप्सी रिपोर्ट की जांच के लिए 21 अगस्त को एम्स के 5 डॉक्टर्स की टीम बनाई गई थी
  • इस मामले में तीन एजेंसी- सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो जांच कर रही हैं

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के 110 दिन बाद बड़ा खुलासा हुआ है। एम्स के पैनल ने अपनी रिपोर्ट में हत्या की आशंका से इनकार किया है। इंडिया टीवी से बातचीत में एम्स के फॉरेंसिक विभाग के हेड डॉ. सुधीर गुप्ता ने कहा, ‘यह क्लियर कट खुदकुशी का मामला है। सुशांत का मर्डर नहीं हुआ था।’ हालांकि, अभी तक सीबीआई की ओर से इसकी आधिकारिक पुष्टि होनी बाकी है।

सुशांत की ऑटोप्सी रिपोर्ट की जांच के लिए 21 अगस्त को डॉ. सुधीर गुप्ता की लीडरशिप में एम्स के पांच डॉक्टर्स की टीम बनाई गई थी। इसने 28 सितंबर को अपनी रिपोर्ट सीबीआई को सौंपी थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, टीम को विसरा में किसी तरह का जहर नहीं मिला।

कूपर हॉस्पिटल को नहीं दी गई क्लीनचिट
सूत्रों के मुताबिक, रिपोर्ट में सुशांत की बॉडी का पोस्टमॉर्टम करने वाले मुंबई के कूपर हॉस्पिटल के डॉक्टर्स को क्लीन चिट नहीं दी गई है। दरअसल, कूपर अस्पताल के डॉक्टर्स ने सुशांत की ऑटोप्सी की थी। बाद में इसके तरीके पर सवाल उठे थे। सुशांत के गले के निशान पर रिपोर्ट में कुछ भी नहीं बताया गया था। यहां तक की मौत की टाइमिंग का भी जिक्र नहीं था। इसके बाद सीबीआई ने इसकी जांच एम्स से कराने का फैसला किया था।

मुंबई पुलिस की जांच में फाउल प्ले नहीं मिला था
करीब तीन महीने पहले मुंबई पुलिस ने भी विसरा रिपोर्ट जारी की थी। पोस्टमॉर्टम के बाद सुशांत का विसरा जांच के लिए कालीना फॉरेंसिक लैब को दिया गया था। लैब ने अपनी रिपोर्ट में दिवंगत अभिनेता के शरीर में किसी भी तरह का संदिग्ध केमिकल या जहर पाए जाने की बात से इनकार किया था।

रिया के वकील ने कहा- सत्यमेव जयते
एम्स की रिपोर्ट पर रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानशिंदे ने बयान जारी किया। उन्होंने कहा, ‘हम सीबीआई के ऑफिशियल स्टेटमेंट का इंतजार कर रहे हैं। रिया की ओर से हम लगातार यही कहते आ रहे हैं कि सत्य को किसी भी स्थिति में बदला नहीं जा सकता। हम सिर्फ सत्य पर अडिग हैं, सत्यमेव जयते।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *