कंगना रनोट ने फिर साधा उद्धव सरकार पर निशाना, बोलीं- मुंबई में ये कैसा गुंडाराज है, कोई दुनिया के सबसे नाकारा मुख्यमंत्री से सवाल भी नहीं पूछ सकता?

Posted on

6 मिनट पहले

कंगना रनोट और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद की शुरुआत कंगना के उस ट्वीट से शुरू हुई थी, जिसमें उन्होंने मुंबई की तुलना पीओके से की थी।

एक्ट्रेस कंगना रनोट ने एकबार फिर महाराष्ट्र सरकार और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को निशाने पर लिया है। इस बार उनकी नाराजगी की वजह हरियाणा के एक यू-ट्यूबर साहिल चौधरी की गिरफ्तारी है। जिसे मुंबई पुलिस ने सिर्फ इसलिए गिरफ्तार कर लिया, क्योंकि उसने राज्य सरकार पर सवाल उठाए थे। कंगना ने पूछा है कि ये किस तरह का गुंडाराज जिसमें नाकारा मुख्यमंत्री से सवाल भी नहीं पूछ सकते।

अपने पहले ट्वीट में साहिल चौधरी से जुड़े एक ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कंगना ने लिखा, ‘मुंबई में ये क्या गुंडाराज चल रहा है? कोई दुनिया के सबसे नाकारा मुख्यमंत्री और उनकी टीम से सवाल भी नहीं पूछ सकता है? वे हमारे साथ क्या करेंगे? हमारे घरों को तोड़ देंगे और हमें मार देंगे? कांग्रेस पार्टी इसके लिए जवाबदेह कौन है?#istandwithsaahilchoudhary’।

अनुराग कश्यप आजाद घूम रहा है

इसके बाद अगले ट्वीट में कंगना ने लिखा, ‘किसी शख्स ने साहिल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी, क्योंकि उसने महाराष्ट्र सरकार के कामकाज पर सवाल उठाया था, जो कि उसका लोकतांत्रिक अधिकार था। इसके बाद साहिल को तुरंत जेल भेज दिया गया। लेकिन कई दिनों पहले #पायल घोष ने #अनुराग कश्यप के खिलाफ बलात्कार को लेकर एफआईआर दर्ज करवाई थी लेकिन वो आजाद घूम रहा है। कांग्रेस पार्टी क्या है ये सब?’

क्राइम ब्रांच ने साहिल को रिमांड पर लिया

कंगना ने साहिल चौधरी से जुड़ी जो रिपोर्ट शेयर की, उसमें साहिल की रिहाई की मांग करते हुए लिखा गया है ‘साहिल चौधरी को मुंबई क्राइम ब्रांच द्वारा कथित रूप से 3 दिन की रिमांड पर लिया गया है। ये कार्रवाई कथित रूप से किसी के द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर के आधार पर की गई है। क्योंकि साहिल ने सुशांत सिंह राजपूत केस में महाराष्ट्र सरकार पर सवाल उठाए थे। उसे मदद की जरूरत है।’ अपने दोनों ट्वीट को कंगना ने कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को भी टैग किया।

कंगना और शिवसेना सरकार विवाद

कंगना रनोट और महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार के बीच विवाद की शुरुआत तब हुई थी, जब कंगना ने कहा था कि मुझे मुंबई पुलिस से डर लगता है। जिसके बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कंगना को मुंबई छोड़ने की सलाह दी। इस बात को लेकर कंगना ने मुंबई की तुलना पीओके से करते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर कई टिप्पणियां कीं। विवाद बढ़ा तो एक्ट्रेस ने 9 सितंबर को मुंबई आने की बात कही और कहा कि जिसको जो उखाड़ना है उखाड़ ले। इसके बाद जब वे मुंबई आईं तो उसी दिन बीएमसी ने उनके मुंबई स्थित ऑफिस में अवैध निर्माण हटाने के नाम पर जमकर तोड़फोड़ की। जिसके बाद कंगना ने फिर अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करते हुए उद्धव ठाकरे पर हमला बोला। इस घटना के बाद से ही कंगना लगातार राज्य सरकार और मुख्यमंत्री को लेकर आक्रामक बनी हुई हैं।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *