काेराेना से 3 और लाेगाें की माैत, पूर्व मंत्री रूप सिंह ठाकुर सहित 290 नए संक्रमित मिले

Posted on

शिमला41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • राज्य का आंकड़ा 15 हजार के करीब, कुल संक्रमित 14747 हुए

प्रदेश में काेराेना संक्रमण से मरने वालाें का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को काेराेना संक्रमण से तीन और लाेगाें की मौत हो गई है। दो मौतें कांगड़ा और एक शिमला में हुई है। टांडा मेडिकल कॉलेज में भरमाड़ ज्वाली के 52 वर्षीय कोरोना संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई है। मृतक 19 सितंबर को टांडा में भर्ती किया गया था और 12 को इसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई।

टांडा में ही कनेड़ धर्मशाला के 65 वर्षीय कोरोना संक्रमित व्यक्ति की भी मौत हो गई। मृतक को 28 सितंबर को टांडा में भर्ती किया गया था और मधुमेह से भी पीड़ित था। तीसरी मौत आईजीएमसी शिमला में हुई है। मंगलवार को कोरोना वायरस के 290 नए मामले आए हैं। बिलासपुर में 19, चंबा में 15, हमीरपुर में 3, कांगड़ा में 51, कुल्लू में 14, लाहाैल स्पीति में 3, मंडी में 15, शिमला में 65, सिरमाैर में 23, साेलन में 59 और ऊना में 23 नए मरीज सामने आए है।

मंडी जिले में सुंदरनगर से संबंधित पूर्व मंत्री रूप सिंह ठाकुर समेत 10 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। चंबा और ऊना से 52 नए मामले आए हैं। ऊना जिले में क्षेत्रीय अस्पताल में तैनात 42 वर्षीय स्वास्थ्य कर्मी और उसकी 36 वर्षीय पत्नी दोनों पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं चताड़ा का 30 वर्षीय युवक भी संक्रमित पाया गया है। हरोली उपमंडल के नंगल कलां में करीब तीन साल का बच्चा भी कोरोना की चपेट में आया है। गगरेट उपमंडल की नगर पंचायत गगरेट का 69 वर्षीय व्यक्ति और दौलतपुर की 48 वर्षीय महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई है।

अंब उपमंडल के अंब का 52 वर्षीय व्यक्ति, पंजोआ लडोली का 55 वर्षीय व्यक्ति और अंदौरा का 52 वर्षीय व्यक्ति कोरोना संक्रमित है। प्रदेश में संक्रमितों का आंकड़ा 14747 पहुंच गया है। काेराेना के एक्टिव केस 3573 हैं। अब तक 10971 मरीज ठीक हो चुके हैं। मंगलवार को 364 और मरीज ठीक हो गए। आज स्वास्थ्य विभाग ने 1561 लाेगाें के सेंपल काेराेना जांच के लिए एकत्रित किए इसमें से 479 लाेगाें की जांच रिपाेर्ट नेगेटिव आई है जबकि 1058 लाेगाें की जांच रिपाेर्ट आना अभी बाकी है। आज प्रदेश में काेराेना संक्रमण का रिकवरी रेट 74.39 प्रतिशत दर्ज की गई है।

गरीब, मध्यम आय वाले देशों के लिए अब 20 करोड़ वैक्सीन बनाएगी सीरम

सीरम इंस्टीट्यूट कोरोना गैवी (ग्लोबल अलायंस फॉर वैक्सीन इम्यूनाइजेशन) के साथ मिलकर 10 करोड़ कोरोना की वैक्सीन भारत और अन्य गरीब/मध्यम आय वाले देशों के लिए अगले साल बनाएगा। सीरम इससे पहले बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ भी करार कर चुकी है, जिसमें 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज सप्लाई करने की बात कही थी।

यानी अब सीरम 20 करोड़ कोरोना वैक्सीन सप्लाई करने का करार कर चुका है। सीरम के सीईओ अदर पूनावाला ने उम्मीद जताई कि 2021 में वैक्सीन उपलब्ध हो जानी चाहिए। सीरम दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन बनाने वाली कंपनी है। वह ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोरोना वैक्सीन का इंडिया में फेस 3 ट्रायल कर रही है। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा है कि विकसित देशों के मुकाबले कोरोना से लड़ाई में देश की स्थिति कहीं ज्यादा बेहतर है।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *