कोरोना: हिमाचल प्रदेश में 109 नए संक्रमित, जानें सक्रिय केस

0
1
कोरोना वायरस की जांच(फाइल)


अमर उजाला नेटवर्क, शिमला
Published by: Krishan Singh
Updated Wed, 20 Oct 2021 10:15 PM IST

सार

प्रदेश में कोरोना मृतकों का आंकड़ा 3711 पहुंच गया है। प्रदेश में अब तक कोरोना के 221936 मामले आ चुके हैं। इनमें से 216814 ठीक हो चुके हैं। कोरोना सक्रिय मामले 1394 हो गए हैं। बीते 24 घंटों के दौरान 63 मरीज ठीक हुए हैं और कोरोना की जांच के लिए 4238 लोगों के सैंपल लिए गए। 
 

कोरोना की जांच(फाइल)
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश में बुधवार को 109 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। वहीं, कांगड़ा में दो विद्यार्थियों और दो शिक्षकों और बिलासपुर में चार विद्यार्थियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। प्रदेश में कोरोना मृतकों का आंकड़ा 3711 पहुंच गया है। प्रदेश में अब तक कोरोना के 221936 मामले आ चुके हैं। इनमें से 216814 ठीक हो चुके हैं। कोरोना सक्रिय मामले 1394 हो गए हैं। इसमें से बिलासपुर जिले में 85, चंबा 11, हमीरपुर 300, कांगड़ा 498, किन्नौर नौ, कुल्लू 27, लाहौल-स्पीति एक, मंडी 177, शिमला 87, सिरमौर शून्य, सोलन 37 और ऊना में 162 सक्रिय मामले हैं। बीते 24 घंटों के दौरान 63 मरीज ठीक हुए हैं और कोरोना की जांच के लिए 4238 लोगों के सैंपल लिए गए। 

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों को प्रेरित कर केंद्र तक पहुंचाएगी सरकार
वहीं, 30 नवंबर तक हिमाचल प्रदेश में सभी को दूसरी डोज लगाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा को पूरा करने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार अब विशेष अभियान चलाएगी। लोगों को कोविड टीके की दूसरी डोज लगाने के लिए घर घर जाकर प्रेरित किया जाएगा। लोगों में दूसरी डोज लगवाने को लेकर घटते रुझान और 30 नवंबर की डेडलाइन तक लक्ष्य हासिल न कर पाने की आशंका को देखते हुए इस अभियान को चलाया जाएगा। इस संबंध में बुधवार को मुख्य सचिव राम सुभग सिंह ने सूबे के सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ एक बैठक की। जिसमें उन्हें अभियान को लेकर खास निर्देश दिए गए। इस दौरान यह बात भी सामने आई कि लोगों में कोविड को लेकर खौफ कम होने की वजह से वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने में दिलचस्पी घटी है।

 

ये भी पढ़ें: मौसम: हिमाचल में दो एनएच और 15 संपर्क मार्ग अब भी बंद, रोहतांग में बर्फ देखने उमड़े सैलानी

ऐसे में निर्णय लिया गया है कि अब पंचायत स्तर पर घर घर जाकर लोगों को दूसरी डोज के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। बता दें, सभी पात्र हिमाचल वासियों को पहली डोज लगाने वाला पहला राज्य बनने पर हिमाचल सरकार ने एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री से दूसरी डोज लगाने वाला पहला राज्य बनने का वायदा किया था। चूंकि अभी तक प्रदेश मे 55 फीसदी आबादी को ही दूसरी डोज लगाई जा सकी है। वहीं, गुजरात दूसरी डोज के मामले में करीब पचास फीसदी पात्र आबादी को कवर कर चुका है। ऐसे में इस बात की आशंका है कि हिमाचल प्रदेश दूसरी डोज लगाने के लक्ष्य को निर्धारित तारीख तक पूरा नहीं कर पाएगा। ऐसे में अब वायदे को पूरा करने के उद्देश्य से यह नई कवायद की जा रही है। 

विस्तार

हिमाचल प्रदेश में बुधवार को 109 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। वहीं, कांगड़ा में दो विद्यार्थियों और दो शिक्षकों और बिलासपुर में चार विद्यार्थियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। प्रदेश में कोरोना मृतकों का आंकड़ा 3711 पहुंच गया है। प्रदेश में अब तक कोरोना के 221936 मामले आ चुके हैं। इनमें से 216814 ठीक हो चुके हैं। कोरोना सक्रिय मामले 1394 हो गए हैं। इसमें से बिलासपुर जिले में 85, चंबा 11, हमीरपुर 300, कांगड़ा 498, किन्नौर नौ, कुल्लू 27, लाहौल-स्पीति एक, मंडी 177, शिमला 87, सिरमौर शून्य, सोलन 37 और ऊना में 162 सक्रिय मामले हैं। बीते 24 घंटों के दौरान 63 मरीज ठीक हुए हैं और कोरोना की जांच के लिए 4238 लोगों के सैंपल लिए गए। 

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों को प्रेरित कर केंद्र तक पहुंचाएगी सरकार

वहीं, 30 नवंबर तक हिमाचल प्रदेश में सभी को दूसरी डोज लगाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा को पूरा करने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार अब विशेष अभियान चलाएगी। लोगों को कोविड टीके की दूसरी डोज लगाने के लिए घर घर जाकर प्रेरित किया जाएगा। लोगों में दूसरी डोज लगवाने को लेकर घटते रुझान और 30 नवंबर की डेडलाइन तक लक्ष्य हासिल न कर पाने की आशंका को देखते हुए इस अभियान को चलाया जाएगा। इस संबंध में बुधवार को मुख्य सचिव राम सुभग सिंह ने सूबे के सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ एक बैठक की। जिसमें उन्हें अभियान को लेकर खास निर्देश दिए गए। इस दौरान यह बात भी सामने आई कि लोगों में कोविड को लेकर खौफ कम होने की वजह से वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने में दिलचस्पी घटी है।

 

ये भी पढ़ें: मौसम: हिमाचल में दो एनएच और 15 संपर्क मार्ग अब भी बंद, रोहतांग में बर्फ देखने उमड़े सैलानी

ऐसे में निर्णय लिया गया है कि अब पंचायत स्तर पर घर घर जाकर लोगों को दूसरी डोज के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। बता दें, सभी पात्र हिमाचल वासियों को पहली डोज लगाने वाला पहला राज्य बनने पर हिमाचल सरकार ने एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री से दूसरी डोज लगाने वाला पहला राज्य बनने का वायदा किया था। चूंकि अभी तक प्रदेश मे 55 फीसदी आबादी को ही दूसरी डोज लगाई जा सकी है। वहीं, गुजरात दूसरी डोज के मामले में करीब पचास फीसदी पात्र आबादी को कवर कर चुका है। ऐसे में इस बात की आशंका है कि हिमाचल प्रदेश दूसरी डोज लगाने के लक्ष्य को निर्धारित तारीख तक पूरा नहीं कर पाएगा। ऐसे में अब वायदे को पूरा करने के उद्देश्य से यह नई कवायद की जा रही है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here