खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष और पत्नी समेत प्रदेश में 292 नए पॉजिटिव मिले, 8 लोगों ने दम तोड़ा; प्रदेश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 12,438 हुआ

Posted on

शिमला2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अब तक 125 लोग संक्रमण से दम तोड़ चुके हैं और 17 माइग्रेट होकर प्रदेश से बाहर जा चुके हैं। 

  • नए मामलों के साथ अब तक प्रदेश में संक्रमितों का कुल आंकड़ा 12438 हो गया है
  • वर्तमान में 4455 एक्टिव केस हैं जबकि अब तक 7843 लोग स्वस्थ हो चुके हैं

कोरोना के नए मामलों के साथ प्रदेश में संक्रमण से मरने वालाें का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता जा रहा है। सोमवार को 292 नए मामले आए और 291 मरीजों की रिकवरी हुई है। वहीं अब तक 8 की संक्रमण से मौत हो गई है। इसमें कांगड़ा और मंडी जिला में तीन- तीन, किन्नौर व सिरमौर में एक-एक की मृत्यु हुई है।

कांगड़ा जिला में 40, हमीरपुर में 39, बिलासपुर में 29, मंडी में 28, चंबा में 27, शिमला में 25, सोलन और किन्नौर में 24-24, सिरमौर में 21, ऊना में 17, लाहुल स्पीति में 12 व कुल्लू में 6 मामले सामने आए हैं। वहीं, मंडी के 82, सिरमौर के 73, कांगड़ा के 63, सोलन के 42, किन्नौर के 12, बिलासपुर के सात, कुल्लू के छह, हमीरपुर के चार व चंबा के दो कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए हैं।

नए मामलों के साथ अब तक प्रदेश में संक्रमितों का कुल आंकड़ा 12438 हो गया है। वर्तमान में 4455 एक्टिव केस हैं जबकि अब तक 7843 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा 125 पहुंच गया है।

इनकी हुई मौत

आज सुबह मंडी के अंतर्गत नेरचौक मेडिकल कॉलेज में दो मौत हो गईं। इनमें से एक 60 वर्षीय महिला मनाली की रहने वाली थी। उसे 19 सितंबर को मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया था। दूसरा मामला मंडी जिला के समखेतर बाजार से है। यहां 80 वर्षीय बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया है। बुजुर्ग पिछले लंबे समय से विभिन्न बीमारियों से ग्रसित था दोनों बुजुर्गो की मौत के बाद अब कोविड नियमों के तहत इनका बल्ह की कंसा खड्ड में अंतिम संस्कार किया जाएगा।

खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष और पत्नी पॉजिटिव

खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष पुरूषोतम गुलेरिया व उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी देते हुए उन्होंने संपर्क में आए सभी कार्यकर्ताओं को टेस्ट करवाने का आग्रह किया गया है। पुरूषोतम गुलेरिया बीते तीन दिनों से रोहड़ू व चौपाल क्षेत्र के दौरे पर थे। दौरे में उनके साथ उनकी पत्नी भी थीं।

0


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *