जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका ने लिखा था ‘माल है क्या’, उसकी खुद ही एडमिन निकलीं; ग्रुप से इंडस्ट्री की कई हस्तियां जुड़ी थीं

Posted on

  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Deepika Padukone Manager Karishma Prakash Drug Connection Investigation | Here’s Latest News Updates Narcotics Control Bureau (NCB)

मुंबई11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यह तस्वीर अक्टूबर 2017 की मुंबई के कोको बार के बाहर की है, जो यह साबित करती है कि दीपिका अक्सर यहां आया करती थीं। दीपिका ने अपनी चैट में इस बार का जिक्र किया है।

  • सूत्रों के मुताबिक, यह ग्रुप कुछ दिन पहले ही डिलीट कर दिया गया था
  • ग्रुप में दीपिका की मैनेजर करिश्मा और रिया की मैनेजर जया साहा भी थीं

ड्रग्स मामले में दीपिका पादुकोण को लेकर नए खुलासे हो रहे हैं। 2017 के जिस वॉट्सऐप ग्रुप में दीपिका ने ‘हैश’ (हशीश) और ‘माल है क्या?’ जैसी लाइन लिखी थी, उस ग्रुप की वह खुद एडमिन थीं। भास्कर को सूत्रों ने बताया कि दीपिका के अलावा करिश्मा और जया साहा भी इसकी एडमिन थीं। कुछ महीने पहले ही यह ग्रुप डिलीट किया गया। इस ग्रुप में कई नामचीन सितारे और उनके मैनेजर जुड़े थे।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) को ग्रुप की कई ड्रग चैट मिली हैं, जिसके आधार पर एनसीबी ड्रग सिंडिकेट ऑपरेट करने का केस दर्ज कर सकती है।

ग्रुप में 12 मेंबर्स थे
सूत्रों के मुताबिक, ग्रुप में 12 मेंबर थे। करिश्मा ने पूछताछ में बताया कि वह जाया साहा के अंडर में काम करती थी और दीपिका को लेकर उनसे कई बार बातचीत हुई। जया और दीपिका की मुलाकात भी करिश्मा ने ही करवाई थी। सूत्र के अनुसार, करिश्मा ने दीपिका के लिए ड्रग्स खरीदने की बात कुबूल कर ली है। ग्रुप की चैट से पता चला है कि सेलेब्रिटीज ड्रग्स की खरीदारी अपने स्टाफ या मैनेजर के जरिए करते थे।

करिश्मा ने माना- दीपिका ने ग्रुप में शामिल किया था
करिश्मा प्रकाश से आज एनसीबी पूछताछ कर रही है। उसने ड्रग्स से जुड़े किसी भी मामले में शामिल होने से साफ मना किया है। सूत्रों के मुताबिक, करिश्मा से जैसे ही पूछताछ शुरू हुई, वह फूट-फूट कर रोने लगी। एनसीबी ने उसके इस ग्रुप में शामिल होने के सबूत रखे तो उसने एक्ट्रेस दीपिका को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं। करिश्मा ने बताया कि इस ग्रुप में दीपिका ने ही उन्हें जबरदस्ती एड किया था। ग्रुप में दीपिका और करिश्मा प्रकाश के बीच हुई बातचीत सार्वजनिक हुई थी। जया साहा रिया चक्रवर्ती की मैनेजर रही हैं। जबकि, करिश्मा प्रकाश दीपिका पादुकोण की मैनेजर हैं। जया को करिश्मा का सीनियर बताया जाता है।

दीपिका और करिश्मा के बीच हुई बातचीत

सुबह 10:04 बजे: दीपिका करिश्मा को लिखती हैं, ‘क्या तुम्हारे पास माल है?’

10:05 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘मेरे पास है, लेकिन घर में है। मैं बांद्रा में हूं।’

10:05 बजे: अगले चैट में करिश्मा लिखती हैं, ‘क्या मैं अमित से कहूं, अगर तुम्हें चाहिए तो।’ (अमित कौन है, यह साफ नहीं है।)

10:07 बजे: दीपिका लिखती हैं, ‘Yes!! Pllleeeeasssee..’

10:08 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘अमित के पास है। वह उसे लेकर आ रहा है।’

10:12 बजे: दीपिका लिखती हैं, ‘हैश न?‘ अगले चैट में वे लिखती हैं, ‘वीड (गांजा) नहीं।’

10:14 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘तुम कितने बजे कोको आ रही हो?’ (कोको मुंबई का एक बार है।)

10:15 बजे: दीपिका लिखती हैं, ‘11:30 या 12 बजे तक।’

10:15 बजे: दीपिका आगे लिखती हैं, ‘शैल कितने बजे तक वहां पहुंच जाएगी?’ (शैल कौन है, यह साफ नहीं है।)

10:16 बजे: करिश्मा लिखती हैं, ‘मुझे लगता है कि उसने 11:30 कहा था, क्योंकि उसे 12 बजे किसी दूसरी जगह पर पहुंचना था।’

इन गंभीर धाराओं में केस दर्ज हो सकता है

  • सेक्शन 8(c): जानबूझकर कोई ऐसी संपत्ति खरीदना या उसका इस्तेमाल करना, जो इस कानून का उल्लंघन हो।
  • सेक्शन 20(b)(ii): अगर कोई कम मात्रा में प्रतिबंधित ड्रग्स बनाता, अपने पास रखता, बेचता, खरीदता या इस्तेमाल करता पाया जाता है।
  • सेक्शन 29: साजिश रचने और किसी को ड्रग्स लेने के लिए उकसाने के दोषी पाए जाने पर भी सजा का प्रावधान है।
  • सेक्शन 22: ड्रग्स की कम क्वांटिटी के लिए एक साल, ज्यादा क्वांटिटी के केस में 10 साल और कमर्शियल क्वांटिटी के लिए 20 साल तक की सजा दी जा सकती है।
  • सेक्शन 27A: प्रतिबंधित ड्रग्स से जुड़ी एक्टिविटी को बढ़ावा देने या इसमें मदद करने के लिए कम से कम 10 साल की और अधिकतम 20 साल की सजा का प्रावधान। कोर्ट चाहे तो दो लाख रुपए से ज्यादा का जुर्माना भी वसूल सकती है।

ऐसे करिश्मा से होते हुए दीपिका तक पहुंचा ड्रग्स का मामला
करिश्मा प्रकाश ‘क्वान’ नाम की एक सेलिब्रिटी मैनेजमेंट कंपनी में काम करती हैं। यह कंपनी 40 से ज्यादा बॉलीवुड सेलेब्रिटीज को टैलेंट मैनेजर मुहैया करवाती है। रिया चक्रवर्ती की मैनेजर जया साहा भी इसी कंपनी के लिए काम करती हैं। एनसीबी, सीबीआई और ईडी की टीम जया से कई बार पूछताछ कर चुकी है। जांच के दौरान एनसीबी को जया और करिश्मा के बीच हुई चैट का पता चला। इसी के बाद मामला दीपिका तक पहुंचा।

ऐसे एक्सट्रैक्ट हुई दीपिका की वॉट्सऐप चैट
पुलिस विभाग से जुड़े एक अधिकारी ने नाम जाहिर न करने की शर्त पर भास्कर को बताया कि चैट के फॉर्मेट को देखकर कहा जा सकता है कि यह दीपिका की ओरिजनल चैट हो सकती है। इन चैट के नीचे लिखे सोर्स यह साबित करते हैं कि यह एक्ट्रेस या उनकी मैनेजर के मोबाइल फोन से नहीं, बल्कि एक सॉफ्टवेयर की मदद से एक्सट्रैक्ट किए गए हैं। आमतौर पर केंद्रीय जांच एजेंसियां इस तरह की चैट को इसी तरीके से एक्सट्रैक्ट कर सकती हैं।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *