दिल्ली कैपिटल्स के रबाडा बोले- विराट कोहली, गेल और डिविलियर्स सबसे बड़ा चैलेंज; लेकिन मैं भी मुकाबले के लिए तैयार हूं

Posted on

दुबई8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

रबाडा ने कहा कि आर अश्वीन और रहाणे के आने से दिल्ली की टीम और मजबूत हुई है (फाइल फोटो)

  • रबाडा ने कहा जीत के साथ करेंगे आईपीएल सीजन 13 का आगाज
  • कहा हमारी टीम अनुभवी खिलाड़ियों और युवाओं की परफेक्ट मिश्रण है

आईपीएल 2020 शनिवार से शुरू हो रहा है। आईपीएल में हिस्सा ले रहे लगभग सभी खिलाड़ी एक बहुत लंबे अंतराल के बाद क्रिकेट के मैदान में वापसी कर रहे हैं। दुबई के अखबार खलीज टाइम्स ने राबाडा से बातचीत की। दुनिया के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक, दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर रबाडा मार्च के बाद पहली बार मैदान पर होंगे। दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से तेज गेंदबाजी का मोर्चा संभालने वाले रबाडा ने खलीज टाइम्स से कहा कि उनके लिए विराट कोहली, गेल और डिविलियर्स सबसे बड़ा चैलेंज होंगे लेकिन वो भी मुकाबले के लिए तैयार हो चुके हैं।

कहा “मैच के लिए रेडी हूं”

दक्षिण अफ्रीका से दुबई पहुँच कर छह दिन तक क्वारैंटाइन रहने के बाद रबाडा ने सात सितंबर को छह महीने बाद दुबई में अपना पहला ट्रेनिंग सेशन अटेंड किया था।

राबाडा ने खलीज टाइम्स से बातचीत में कहा “ मैं अब पूरी तरह से तैयार महसूस कर रहा हूं, यह आपके मानसिकता पर निर्भर करता है कि आप तैयार महसूस कर रहे हैं या नहीं मैं अब मैच के लिए पूरी तरह से डिसेंट फील कर रहा हूं”

पिछले साल एक शानदार सीजन खेलकर राबाडा ने दिल्ली कैपिटल्स को छह साल में पहली बार प्लेऑफ में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी। रबाडा ने पिछले सीजन में 12 मैचों में 25 विकेट चटकाए थे। इस साल दिल्ली का पहला मैच रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब से है। रबाडा ने कहा कि उनकी टीम दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग का आगाज जीत के साथ करना चाहती है, उन्होंने आशा भी जताई की दिल्ली कैपिटल्स चैंपियन भी बन सकती है।

रहाणे जैसे अनुभवी खिलाड़ियों के आने से टीम मजबूत हुई

रबाडा के मुताबिक श्रेयस अय्यर की अगुआई वाली डेल्ही कैपिटल्स के पास अब युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का परफेक्ट मिश्रण है। रबाडा ने कहा “ यह वाकई एक शानदार कॉम्बिनेशन है, टीम 22 साल के ऋषभ पंत से लेकर 25 साल के सुरेश अय्यर तक युवाओं से भरी हुई है, हमारी टीम में बहुत ही करिश्माई खिलाड़ी हैं, किसी एक ने भी अगर हाथ रख दिया तो गेम की सूरत बदल जाएगी”

रबाडा के मुताबिक यूएई में विकेट के स्लो रहने की उम्मीद है ऐसे में पावर हीटर बल्लेबाजों को रोकना एक मुश्किल टास्क होगा, साथ ही साथ बॉलरों को राल न लगाए बिना बॉलिंग में एडजेस्ट करना मुश्किल होगा।

0


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *