दो सेशन बाद ही टूटी कानपुर की पिच: ग्रीन पार्क के विकेट ने पहले ही दिन दिखाया पुराना मिजाज, भारतीय स्पिनर्स का दिखेगा अब बोलबाला

0
19


कानपुर5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गंगा नदी के किनारे कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में टेस्ट मैच का पहला दिन सबसे अहम होता है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे सीरीज के पहले मुकाबले में भी ऐसा ही देखने को मिला। भारतीय कप्तान अंजिक्य रहाणे ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने फैसला किया। वहीं, दो ही तेज गेंदबाजों के साथ उतरी कीवी टीम जल्द ही पहली सफलता हासिल करने में कामयाब हो गई। हालांकि इसके बाद शुभमन गिल व चेतेश्वर पुजारा ने पारी को संभाला और दूसरे विकेट के लिए 61 रन जोड़े।

गिल 52 और पुजारा 26 रन बनाकर आउट हुए। दिन का खेल खत्म होने तक भारत का स्कोर 4 विकेट के नुकसान पर 258 रन रहा। पहले दिन की मैच रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

दूसरे सेशन में कीवी तेज गेंदबाजों ने बिखेरा जलवा
लंच के बाद जहां सूरज ने तेवर दिखाए मानों विकेट के साथ-साथ कीवी गेंदबाज भी चार्ज हो गए। दूसरे सेशन शुरू होते ही कीवी तेज गेंदबाज काइल जेमीसन ने शुभमन गिल को वापस भेज दिया। उन्होंने टीम के खाते में 52 रन जोड़े। इसके बाद पुजारा व कप्तान रहाणे भी जल्द ही वापस लौट गए। खास बात यह रही कि टी तक पहले तक गिरे चारों विकेट तेज गेंदबाजों के खाते में ही गए। इस दौरान विकेट पर अच्छा बाउंस देखने को मिला।

शाम होते-होते हमेशा की तरह धीमा हो गया विकेट
टी के बाद जब कीवी टीम गेंदबाजी करने आई तो उसने अपने स्पिनरों को हमले पर लगाया। इस दौरान पहले दिन से अंत तक धीमा होने वला विकेट अपने पारंपरिक अंदाज में नजर आया। स्पिन गेंदबाजों को विकेट से टर्न तो मिला, लेकिन यह भारतीय बल्लेबाजों को परेशान करने में नाकाफी साबित। लेकिन इसने कीवी बल्लेबाजों की धड़कने जरूर बढ़ा दी हैं।

अब स्पिनरों की बारी
ग्रीन पार्क में अब स्पिनरों का जलवा देखने को मिलेगा, जिसकी बानगी गुरूवार शाम को ही देखने को मिलने लगी थी। विकेट पहले ही दिन से टूटने लगा है और गेंद टिप्पे के साथ मिट्टी छोड़ने लगा है। ऐसे में अब मैच स्पिन गेंदबाजों के हक में जाता दिख रहा है। अब अगले चार दिन फिरकी गेंदबाज बल्लेबाजों की जमकर परीक्षा लेगें। मैच कितने दिन चलेगा यह फैसला भी कीवी खेमें की पहली पारी समाप्त होते ही तय हो जाएगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here