फेमा में फंसे अमेजन-फ्यूचर ग्रुप: ED ने विवादित डील के लिए भेजा नोटिस, किशोर बियानी और अमित अग्रवाल से पूछे जाएंगे सवाल

0
19
Quiz banner



  • Hindi News
  • National
  • ED Notice, Amazon India, Future Group, Questions Will Be Asked To Kishore Biyani And Amit Agarwal

3 घंटे पहले

अमेजन इंडिया और फ्यूचर ग्रुप के बीच हुई डील एक बार फिर संकट में पड़ गई है। सूत्रों ने रविवार को बताया कि इस विवादित डील को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अमेजन इंडिया के कंट्री हेड अमित अग्रवाल और फ्यूचर ग्रुप के हेड किशोर बियानी को नोटिस भेजा है। सूत्रों का कहना है कि ED की जांच फ्यूचर काउपोंस प्राइवेट लिमिटेड (FCPL) और अमेजन इंडिया के बीच हुई विवादित डील में फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (FEMA) के नियमों के उल्लंघन से जुड़ी है।

6 दिसंबर को दिल्ली में होगी पेशी
ANI की रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि दोनों ग्रुप्स के अधिकारियों को ED ने 6 दिसंबर को दिल्ली में पेश होने के लिए कहा है। एजेंसी के हेडक्वार्टर में होने वाली इस पेशी में दोनों कंपनियों को डील से जुड़े सभी दस्तावेज लाने का आदेश भी दिया गया है।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि ED इस बात की जांच करेगी कि अमेजन ने 2019 में FCPL में 1431 करोड़ रुपए का निवेश कर 49% हिस्सेदारी खरीदने में FEMA का उल्लंघन तो नहीं किया है।

FCPL की है बिग बाजार, ईजीडे में हिस्सेदारी
सूत्रों के मुताबिक, अमेजन इंडिया ने जिस FCPL में 49% हिस्सा खरीदा है, उसकी फ्यूचर रिटेल लिमिटेड (FRL) में करीब 10% हिस्सेदारी है। FRL ही बिग बाजार, फूड बाजार और ईजीडे जैसी बड़ी रिटेल चेन का संचालन करती है।

अमेजन के स्पॉक्सपर्सन ने भी ED का नोटिस मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा, हमें ED ने फ्यूचर ग्रुप के सिलसिले में नोटिस भेजा है। हमें अभी समन मिला ही है। हम उसकी जांच कर रहे हैं और दिए गए समय में उसका जवाब देंगे।

कोर्ट में भी चल रहा है इससे जुड़ा विवाद
फ्यूचर रिटेल की संभावित बिक्री को लेकर दोनों कंपनियों में कानूनी विवाद चल रहा है। अमेजन का कहना है कि फ्यूचर रिटेल का रिलायंस रिटेल को बेचने का करार उनके साथ 2019 में हुए निवेश समझौते का उल्लंघन है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here