बल्क ड्रग फार्मा पार्क के लिए ऊना में 460 एकड़ अतिरिक्त जमीन का चयन

Posted on

शिमला5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • अब 1460 एकड़ जमीन होगी उद्याेग विभाग के नाम

एक हजार कराेड़ रुपए के बल्क ड्रग फार्मा पार्क के लिए ऊना में 1460 एकड़ जमीन का चयन कर दिया गया है। पहले यहां पर पार्क के लिए 1000 एकड़ भूमि का चयन किया गया था। पार्क के लिए बाद में जमीन का काेई इश्यू न रहे, इसे ध्यान में रखते हुए उद्याेग विभाग ने ऊना में 460 एकड़ अतिरिक्त भूमि का चयन कर दिया है।

ऊना में अब यह जमीन उद्याेग विभाग के नाम ट्रांसफर किए जाने की प्रक्रिया काे आगे बढ़ाया जा रहा है। इसे लेकर विभाग ने केस बना कर फाइल राजस्व विभाग काे भेज दी है। संबंधित जमीन पर एफसीए नहीं लगता, लिहाजा वन विभाग से भी एनओसी जारी कर दी गई है। ऊना में 1460 एकड़ जमीन इस सप्ताह उद्याेग विभाग के नाम ट्रांसफर कर दी जाएगी। इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जमीन उद्याेग विभाग के नाम ट्रांसफर किए जाने के बाद विभाग उसे अपने कब्जे में लेकर उसकी बाढ़बंदी करेगा। इसके बाद संबंधित क्षेत्र का डेवलपमेंट प्लान तैयार किया जाएगा। इससे पहले राजस्व विभाग ने नालागढ़ में 15000 एकड़ जमीन सशर्त उद्याेग विभाग के नाम ट्रांसफर कर दी है। इसमें विभाग काे दाे साल के भीतर संबंधित जमीन पर काम काे शुरू करने की शर्त रखी गई है।

केंद्र सरकार ने दाे प्राेजेक्ट किए हैं मंजूर
केंद्र सरकार ने एक हजार कराेड़ रुपए के तीन बल्क ड्रग फार्मा पार्क और 100 कराेड रुपए की लागत से चार मेडिकल डिवाइस पार्क मंजूर किए है। राज्य सरकार दाेनाें प्राेजेक्टाें के लिए अपनी दावेदारी पेश करेगा। दाेनाें प्राेजेक्टाें काे लेने के लिए सरकार अपनी पूरी तैयारियाें में जुट गई है। प्राेजेक्टाें के लिए जमीन की उपलब्धता सरकार ने कर दी है।

सरकार 24 सितंबर काे दाेनाें प्राेजेक्टाें के लिए अपनी दावेदारी पेश करेगा। उद्याेग विभाग के निदेशक हंस राज शर्मा ने बताया कि ऊना में भी 1460 एकड़ जमीन चयनित कर दी है। लैंड ट्रांसफर के लिए फाइल राजस्व विभाग काे भेज दी है। उन्हाेंने कहा िक इस सप्ताह ऊना में जमीन उद्याेग विभाग के नाम ट्रांसफर कर दी जाएगी।

0


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *