बॉर्डर क्रास करने वालों के लिए नए नियम; हैवी कोविड-19 केस वाले शहरों से आने वालों हो इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन तो सामान्य शहरों से आने वालों को होना होगा होम क्वारैंटाइन

Posted on

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Notification Issued For Border Crossers; Institutional Quarantine For Those Coming From Cities With Heavy Kovid 19 Case, Then Those From Normal Cities Will Have To Be Home Quarantine For 10 Days

शिमलाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

सीएम ने कहा- राज्य में बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मामलों के मद्देनजर ही यह फैंसला लिया गया है। शिमला, सोलन,टांडा,ऊना और नाहन में खोले जाने वाले मेक शिफ्ट अस्पतालों में गंभीर मरीज़ों का इलाज किया जाएगा। हर अस्पताल में 50-50 बेड्स की व्यवस्था होगी।

  • शिमला में मीडिया से बातचीत में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह बात कही
  • प्रदेश के पांच जिलों में 250 बेडेड मेक शिफ्ट अस्पताल बनाए जाएंगे

प्रदेश के पांच जिलों में 250 बेडेड मेक शिफ्ट अस्पताल बनाए जाएंगे। वहीं एसिंप्टोमेटिक मरीजों का इलाज अब घर पर होगा और गंभीर मरीजों को ही अस्पताल में इलाज किया जाएगा। बुधवार को शिमला में मीडिया से बातचीत में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह बात कही। उन्होंने बताया कि राज्य में बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मामलों के मद्देनजर ही यह फैंसला लिया गया है। शिमला, सोलन,टांडा,ऊना और नाहन में खोले जाने वाले मेक शिफ्ट अस्पतालों में गंभीर मरीज़ों का इलाज किया जाएगा। हर अस्पताल में 50-50 बेड्स की व्यवस्था होगी।

सभी तरह की सुविधाओं से लैस इन अस्पतालों में बुजुर्ग और गंभीर मरीजों का इलाज किया जाएगा। वे बोले कि देशभर में होम आइसोलेशन को प्राथमिकता दी जा है। हिमाचल 45 प्रतिशत मरीज घर में आइसोलेशन में रह रहे हैं। खुद लोग भी इसके लिए आग्रह कर रहे हैं। इससे अस्पतालों व कोविड केयर सेंटर्स में मरीजों के लोड को कम किया जा सकेगा। सीएम ने कहा कि उन्होंने सभी सदस्यों को आग्रह किया है कि वे अपने अपने क्षेत्रों होम आइसोलेशन के बारे में लोगों को बताएं। प्रदेश के बॉर्डर अब खोल दिए गए हैं, ऐसे में कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा और बढ़ गया है।

बार्डर क्रॉस करने वालों के लिए संशोधित निर्देश

प्रदेश सरकार ने राज्य के बॉर्डर्स में आने वालों के लिए संशोधित नोटिफिकेशन जारी की है। राज्य आपदा प्रबंधन सेल की ओर से जारी नए आदेशों के मुताबिक किसी भी व्यक्ति को हिमाचल की सीमा के अंदर दाखिल होने के लिए पंजीकरण कराने की आवश्यकता नहीं रहेगी। लेकिन क्वारैंटाइन व्यवस्था स्वास्थय विभाग की ओर से जारी आदेशों के तहत ही होगी। इसमें स्पष्ट किया गया है कि अगर अगर कोई भी शख्स हैवी कोविड-19 केस वाले शहरों से आता है तो उसे इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन किया जाएगा। वहीं सामान्य शहरों से आने वालों को 10 दिन के लिए होम क्वारैंटाइन होना पड़ेगा। हालांकि दोनों ही नियम उन लोगों पर लागू नहीं होंगे जो अपने साथ कोविड-19 रिपोर्ट लेकर आएंगे।

बार भी खुले

25 मार्च से कोरोना के कारण लॉकडाउन के साथ ही प्रदेश में बार भी बंद कर दिए गए थे। करीब 6 महीने बाद प्रदेश में तय नियम कायदों के साथ बार खुल जाएंगे। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस संबंध में गाइडलाइंस जारी की थी, वहीं जल्द ही अब हिमाचल में होटल भी पूरी तरह से खुल जाएंगे। सरकार ने कैबिनेट मीटिंग में टूरिस्ट के लिए कोरोना की टेस्ट रिपोर्ट और बुकिंग वाले नियम खत्म कर दिए हैं। अब कोई भी प्रदेश में आ जा सकता है।

0


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *