भास्कर एक्सप्लेनर: विराट के हटने के बाद क्या अगले ऑक्शन में नया कप्तान खरीदेगी RCB, अगर मौजूदा टीम में किसी चेहरे पर लगाया दांव तो वो कौन होगा?


5 घंटे पहलेलेखक: जयदेव सिंह

विराट कोहली इस IPL के बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) की कप्तानी छोड़ देंगे। रविवार देर रात उन्होंने इसका ऐलान किया। इससे तीन दिन पहले वो टी-20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया की टी-20 कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर चुके हैं।

2008 में जब IPL की शुरुआत हुई तब से कोहली RCB का हिस्सा हैं। 2013 से कोहली टीम के कप्तान हैं। कोहली ने 9 सीजन RCB की कप्तानी की है। 2022 में होने वाले मेगा ऑक्शन के पहले उनका कप्तानी छोड़ना RCB के सामने कई सवाल लेकर आया है।

कोहली के बाद RCB का कप्तान कौन होगा? क्या मौजूदा टीम में से किसी खिलाड़ी को RCB रिटेन करेगी और उसे नया कप्तान बनाया जाएगा? क्या अगले मेगा ऑक्शन में RCB अपनी टीम के साथ कप्तान की भी बोली लगाएगी? RCB कप्तानों का अब तक का इतिहास क्या रहा है? आइए इन सभी सवालों के जवाब तलाशते हैं…

विराट ने RCB की कप्तानी क्यों छोड़ी?
कोहली ने टीम इंडिया की टी-20 कप्तानी छोड़ने का ऐलान करते वक्त जो कारण बताए थे, वही कारण उन्होंने RCB की कप्तानी छोड़ने का ऐलान करते वक्त बताए। कोहली वर्कलोड कम करना चाहते हैं। हालांकि, उन्होंने अपने करियर के अंत तक RCB के साथ जुड़े रहने की इच्छा जताई। 2022 के IPL के लिए मेगा ऑक्शन होना है। ऐसे में कोहली टीम मैनेजमेंट को भी RCB को नए सिरे से बनाने का मौका देना चाहते थे।

क्या नया कप्तान चुनने में विराट की मर्जी चलेगी?
कोहली 5 नवंबर को 33 साल के हो जाएंगे। उन्होंने RCB की कप्तानी संभाली थी तब उनकी उम्र 24 साल थी। उस वक्त वो टीम इंडिया के कप्तान भी नहीं थे। ऐसे में आगे ये देखना होगा कि RCB क्या कोहली की तरह किसी युवा भारतीय को अपना अगला कप्तान बनाती है या किसी सीनियर को मौका देती है। अगर फ्रेंचाइजी किसी युवा को मौका देने के लिए तैयार होती है और कोहली की राय ली जाती है तो पडिक्कल या सुंदर बड़े दावेदार हो सकते हैं।

RCB अगर किसी भारतीय युवा चेहरे को मौका देना चाहे तो कौन से नाम होंगे सबसे आगे?
RCB की मौजूदा टीम में मोहम्मद सिराज, युजवेन्द्र चहल, देवदत्त पडिक्कल और वाशिंगटन सुंदर जैसे भारतीय खिलाड़ी हैं। इनमें पडिक्कल और सुंदर सबसे युवा हैं। दोनों की उम्र 21 साल है। ऐसे में टीम मैनेजमेंट अगर किसी युवा खिलाड़ी को कप्तान बनाना चाहेगा तो इन दोनों का दावा सबसे ज्यादा मजबूत होगा। सिराज और चहल क्रमश: 27 और 31 साल के हैं। दोनों गेंदबाज हैं आमतौर पर टीमें गेंदबाजों को कम ही कप्तान बनाती हैं। ऐसे में दोनों का दावा थोड़ा कमजोर है।

वैसे कोहली से पहले RCB के दो कप्तान ऐसे थे जो गेंदबाज थे। अनिल कुंबले और डेनियल विटोरी। लेकिन ये दोनों अपने-अपने देश की टीमों की कप्तानी कर चुके थे। दोनों को अलग-अलग लेवल पर कप्तानी करने का लंबा अनुभव था।

डिविलियर्स उप-कप्तान हैं, क्या वो कैप्टन बन सकते हैं?
डिविलियर्स टीम के उप-कप्तान हैं, लेकिन उनकी उम्र उनके साथ नहीं है। वो 3 साल पहले इंटरनेशनल क्रिकेट छोड़ चुके हैं। हालांकि, कुछ समय पहले उन्होंने कहा था कि उम्मीद है कि मैं कुछ और साल IPL खेलना चाहता हूं। ऐसे में RCB उन्हें अगले एक दो सीजन के लिए कप्तान बनाती है तो उसे उनकी लीडरशिप में एक नया कप्तान तैयार करना पड़ेगा।

IPL में मौजूदा ट्रेंड इस तरह का नहीं रहा है। ज्यादातर टीमों ने भविष्य को देखते हुए युवा खिलाड़ियों को कप्तान बनाया है। दिल्ली, पंजाब, राजस्थान इसका उदाहरण हैं। दिल्ली को नए खिलाड़ियों पर भरोसा करने का फायदा भी हुआ है। ऐसे में हो सकता है फ्रेंचाइजी युवा भारतीय पर दांव लगाना बेहतर समझे।

RCB के पास मैक्सवेल भी तो हैं, उनको कप्तान बना सकते हैं क्या?
मौजूदा दौर में ज्यादातर IPL टीमें किसी भारतीय को कप्तान बनाना चाहती हैं। ऐसा करने के पीछे खिलाड़ी की अवेलेबिटी, टीम कॉम्बिनेशन जैसी वजहें होती हैं। इस वक्त 8 में से 6 फ्रेंचाइजी के कप्तान भारतीय हैं। खुद RCB के अब तक के चार में से तीन कप्तान भारतीय रहे हैं। केवल 2011 और 2012 के सीजन में कप्तानी करने वाले डेनियल विटोरी विदेशी कप्तान थे।

ऐसे में उम्मीद कम है कि RCB मैक्सवेल को कप्तान के तौर पर चुने। हालांकि, उनके एक खिलाड़ी के तौर पर टीम में बने रहने के आसार बहुत ज्यादा हैं। यानी, मैक्सवेल उन खिलाड़ियों में शामिल हो सकते हैं जिन्हें RCB रिटेन करना चाहेगी।

अगले ऑक्शन में कप्तान के तौर पर किन खिलाड़ियों को खरीदने की कोशिश कर सकती है RCB?
2022 के IPL से पहले मेगा ऑक्शन होना है। अब तक 8 टीमों वाला ये टूर्नामेंट अगले साल से 10 टीमों का हो जाएगा। यानी, दो नई टीमें भी अगले ऑक्शन में शामिल होंगी। 2018 के मेगा ऑक्शन में RCB ने तीन खिलाड़ियों को रिटेन किया था। विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और सरफराज खान। सरफराज अब RCB का हिस्सा नहीं हैं। कोहली और डिविलियर्स अभी भी RCB के सबसे अहम खिलाड़ी हैं।

2018 के मेगा ऑक्शन में हर फ्रेंचाइजी अधिकतम 5 खिलाड़ी रिटेन कर सकती थी, लेकिन इस बार ये संख्या कम होगी। मीडिया रिपोर्ट्स कहती हैं कि 2022 के मेगा ऑक्शन के पहले फ्रेंचाइजी केवल तीन खिलाड़ी ही रिटेन कर सकेगी। इनमें दो भारतीय और एक विदेशी खिलाड़ी हो सकता है।

ऐसे में अगर टीम भविष्य के कप्तान को रिटेन नहीं करती तो उसके लिए 2022 के ऑक्शन में कप्तान के रूप में किसी खिलाड़ी को चुनने के कई विकल्प मिल सकते हैं। ये विकल्प क्या हो सकते हैं ये तो टी-20 वर्ल्ड और उसके बाद आने वाली ऑक्शन लिस्ट के बाद ही बताए जा सकते हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: