मैच फिक्सिंग को लेकर आईपीएल के खिलाड़ी से साधा गया संपर्क; बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट के प्रमुख ने की पुष्टि

Posted on

दुबई2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट जांच में जुटी है। हालांकि, यह पता करने में थोड़ा समय लगेगा कि संपर्क साधने वाला शख्स कौन था। – प्रतीकात्मक फोटो

  • बायो सिक्योर माहौल में भी मैच फिक्सिंग का खतरा, इंटरनेट के जरिए खिलाड़ियों से संपर्क बनाने की कोशिश
  • एंटी करप्शन यूनिट के प्रोटोकॉल के तहत, जिस खिलाड़ी से संपर्क हुआ है, उसके बारे में नहीं बता सकते

आईपीएल का 13वां सीजन कोरोना के चलते बायो सिक्योर माहौल में खेला जा रहा है। बावजूद इसके आईपीएल पर मैच फिक्सिंग के बादल मंडराने लगे हैं। खबर है कि एक बाहरी एजेंट ने आईपीएल के खिलाड़ी से मैच फिक्सिंग को लेकर संपर्क साधा है। हालांकि, यह खिलाड़ी कौन है?, इसका पता नहीं चल पाया है। इतना जरूर है कि इस खिलाड़ी ने यह जानकारी बीसीसीआई के एंटी करप्शन यूनिट को जरूर दे दी है।

बीसीसीआई के एंटी करप्शन यूनिट के प्रमुख अजित सिंह ने इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि आईपीएल में एक खिलाड़ी से किसी अंजान आदमी ने मैच फिक्सिंग को लेकर संपर्क करने की कोशिश की है। हम उस एजेंट का पता लगा रहें हैं। लेकिन, इसमें कुछ समय लगेगा।

अजित ने कहा, “एंटी करप्शन प्रोटोकॉल के मुताबिक, उस खिलाड़ी के बारे में किसी को बताया नहीं जा सकता, जिससे फिक्सिंग को लेकर संपर्क साधा गया हो।”

खिलाड़ियों से कोई मिल ही नहीं सकता, ऑनलाइन साधा गया संपर्क

खिलाड़ी बायो बबल सुरक्षा में हैं। इसलिए बीसीसीआई के एंटी करप्शन यूनिट का मानना है कि ऑनलाइन माध्यम से खिलाड़ियों को मैच फिक्स करने की पेशकश मिल सकती है। ऐसा माना जा रहा है कि यहां भी कुछ ऐसा ही हुआ है, लेकिन उस खिलाड़ी ने तुरंत एंटी करप्शन यूनिट को इस बारे में जानकारी दे दी।

बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट को अपनी तैयारियों पर पूरा भरोसा है

आईपीएल 2020 के दौरान एंटी करप्शन यूनिट द्वारा खेल को फेयर बनाने के लिए खिलाड़ियों को ऑनलाइन काउंसलिंग सेशन दिया जा रहा है। अंडर 19 टीम से आईपीएल खेल रहे खिलाड़ियों को भी सभी प्रोटोकॉल की जानकारी दी गई है। ऐसे में बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट को अपनी तैयारियों पर पूरा भरोसा है।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *