वर्ल्ड चैंपियन नोवाक की बढ़ी परेशानी: ऑस्ट्रेलियन ओपन से पहले जोकोविच का वीजा रद्द, कोविड पॉजिटिव होने की बात और ट्रैवल हिस्ट्री छिपाई थी

0
21


  • Hindi News
  • Sports
  • Australian Government Cancels Novak Djokovic Visa Ahead Of The Australian Open

37 मिनट पहले

ऑस्ट्रेलिया के इमिग्रेशन मिनिस्टर एलेक्स हॉक ने विश्व के नंबर वन टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच का वीजा रद्द कर दिया है। एलेक्स हॉक ने कहा कि यह फैसला लोगों के भले के लिए लिया गया है। मैंने गृह मंत्रालय ऑस्ट्रेलियाई सीमा बल और जोकोविच द्वारा दी गई जानकारी पर विचार करने के बाद फैसला लिया। जोकोविच संक्रमित होने के बावजूद एक पत्रकार से मिले थे। इसके अलावा उन्होंने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री भी छिपाई थी।

ऑस्ट्रेलिया सरकार ने दूसरी बार जोकोविच का वीजा रद्द किया है। इसके बाद सर्बिया के इस दिग्गज टेनिस खिलाड़ी को ऑस्ट्रेलिया छोड़ना पड़ सकता है। बता दें कि नोवाक जोकोविच बिना कोरोना वैक्सीन लिए ऑस्ट्रेलियन ओपन 2022 में खेलने के लिए गए थे। ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्रालय के अनुसार 20 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता खिलाड़ी का ऑस्ट्रेलिया का वीजा तीन साल के लिए प्रतिबंधित किया जा सकता है।

माना जा रहा है कि जोकोविच के वकील इस फैसले के खिलाफ कोर्ट जा सकते हैं। जब पहली बार जोकोविच का वीजा कैंसिल किया गया था तब भी वे कोर्ट गए थे जहां से राहत मिली थी और वीजा बहाल कर दिया गया था।

कोरोना संक्रमित होने के बावजूद पत्रकार से मिले थे सर्बिया के खिलाड़ी
जोकोविच कोरोना संक्रमित थे, इसके बावजूद पिछले महीने अपने देश सर्बिया के कई कार्यक्रमों में भाग लिया था। जोकोविच ने खुद माना है कि वो पॉजिटिव रहते हुए भी एक पत्रकार से मुलाकात की थी। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश करने के लिए इमिग्रेशन फॉर्म में गलतियां भी की थी। इसके कारण ही उनका वीजा रद्द किया गया है।

2021 के ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में नोवाक जोकोविच ने डेनियल मेदवेदेव को 7–5, 6–2, 6–2 हराया था।

2021 के ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में नोवाक जोकोविच ने डेनियल मेदवेदेव को 7–5, 6–2, 6–2 हराया था।

जोकोविच ने दी थी सफाई
जोकोविच ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट जारी कर इन बातों को आहत करने वाला बताया था। उन्होंने कहा था कि वह ऑस्ट्रेलिया में अपनी मौजूदगी पर लोगों में व्यापक चिंता को कम करने के लिए गलत सूचनाओं को लेकर सफाई देना चाहते हैं। मैंने रैपिड टेस्ट करवाए थे, जिसके रिजल्ट निगेटिव आए थे। बाद में एक परीक्षण पॉजिटिव आया तो मैंने सावधानी बरती, जबकि मुझे कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। मेरी यात्रा दस्तावेजों में की गई गलती को मेरे सहयोगी टीम ने पेश किया था।

जोकोविच ने आगे कहा था, ‘मेरा एजेंट गलत बॉक्स में निशान लगाने की प्रशासनिक गलती के लिए क्षमा चाहता है। यह मानवीय गलती है और निश्चित तौर पर ऐसा जानबूझकर नहीं किया गया। टीम ने इस मामले को स्पष्ट करने के लिये ऑस्ट्रेलियाई सरकार को अतिरिक्त जानकारी उपलब्ध कराई है।’

पहले जीत चुके हैं केस
नोवाक जोकोविच ने ऑस्ट्रेलिया सरकार के खिलाफ वीजा से जुड़े मामले का पहला केस जीता था। मेलबर्न कोर्ट ने ऑस्ट्रेलियाई सरकार द्वारा जोकोविच के वीजा रद्द करने के फैसले को गलत माना था। अदालत ने आदेश दिया था कि उनका पासपोर्ट और बाकी जो भी सामान सरकार द्वारा जब्त किया गया है, उसे तुरंत वापस किया जाए। इसके बाद उन्होंने अभ्यास भी शुरू कर दिया था।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here