वर्ल्ड नंबर-7 जर्मनी के ज्वेरेव पहली बार ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंचे, दो सेट से पिछड़ने के बाद सेमीफाइनल जीता; थिएम फाइनल खेलने वाले पहले ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी होंगे

Posted on

  • Hindi News
  • Sports
  • Alexander Zverev Recovered From Two Sets Down To Defeat Spain’s Pablo Carreno Busta In A Scrappy Encounter And Reach The US Open Final

न्यूयॉर्क29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने सेमीफाइनल में स्पेन के पाब्लो बुस्ता के खिलाफ दो सेट से पिछड़ने के बाद लगातार तीन सेट जीतते हुए मैच अपने नाम किया।

  • जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने सेमीफाइनल में स्पेन के पाब्लो कैरेनियो बुस्टा को 3-6,2-6, 6-3, 6-4, 6-3 से हराया
  • ऑस्ट्रिया के डॉमिनिक थिएम ने दूसरे सेमीफाइल में रूस के डेनियल मेदवेदव को 6-2, 7-6, 7-6 से हराया
  • रोजर फेडरर चोट और राफेल नडाल कोरोना के कारण यूएस ओपन नहीं खेले, जबकि नोवाक जोकोविच प्री क्वार्टर फाइनल में डिसक्वालिफाई हो गए थे

वर्ल्ड नंबर-7 जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव मेंस सिंगल्स के फाइनल में पहुंच गए। यह उनका पहला ग्रैंड स्लैम फाइनल होगा। उन्होंने सेमीफाइनल में स्पेन के पाब्लो कैरेनियो बुस्टा को 3-6,2-6, 6-3, 6-4, 6-3 से हराया। 2017 में उन्होंने अपने करियर की सबसे बेहतर तीसरी रैंकिंग हासिल की थी। खिताबी मुकाबले में ज्वेरेव का सामना ऑस्ट्रिया के डॉमिनिक थिएम से होगा। थिएम ने दूसरे सेमीफाइनल में रूस के डेनियल मेदवेदव को 6-2, 7-6, 7-6 से हराया। थिएम यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचने वाले ऑस्ट्रिया के पहले खिलाड़ी हैं।

थिएम ने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के एलेक्स डी मिनौर को 6-1, 6-2 और 6-4 से शिकस्त दी थी।

पहले सेमीफाइनल में ज्वेरेव की शुरुआत अच्छा नहीं रही थी। वह पहले दो सेट में बुस्टा से 3-6,2-6 से पिछड़ गए थे। लेकिन तीसरे सेट में उन्होंने शानदार वापसी की और 6-3 से इसे अपने नाम किया। इसके बाद उन्होंने स्पेनिश खिलाड़ी को वापसी का मौका नहीं दिया और आखिरी दो सेट जीतते हुए फाइनल में जगह पक्की कर ली। ज्वेरेव के करियर में पहली बार ऐसा हुआ, जब दो सेट में पिछड़ने के बाद उन्होंने मैच जीता।

पहले दो सेट में मैं बहुत खराब खेला: ज्वेरेव

मैच जीतने के बाद ज्वेरेव ने कहा कि दो सेट से पिछड़ने के दौरान मेरी नजर स्कोरबोर्ड पर थी। मैं यकीन नहीं कर पा रहा था कि मैं सेमीफाइनल खेल रहा हूं। मुझे खिताब का मजबूत दावेदार भी माना जा रहा था और मैं इतना खराब खेल रहा था। मुझे पता था कि वापसी के लिए स्थिर रहकर बेहतर टेनिस खेलना होगा।

17 साल में पांचवीं बार नया चैम्पियन मिलेगा

इस बार यूएस ओपन को 17 साल में पांचवां नया विजेता मिलेगा। 2004 से 2019 के बीच 16 सालों में ब्रिग थ्री जोकोविच, फेडरर और नडाल ने ही 12 खिताब जीते। बाकी चार मौकों पर जुआन मार्टिन डेल पोत्रो (2009), एंडी मरे (2012), मारिन सिलिच (2014) और स्टेन वावरिंका (2016) में चैम्पियन बने। 2004 से 2008 तक फेडरर ने लगातार पांच साल तक खिताब अपने नाम किया। वहीं, नडाल ने 4 बार 2010, 2013, 2017, 2019 में यह टूर्नामेंट जीता। जोकोविच ने 2011, 2015 और 2018 में यूएस ओपन पर कब्जा जमाया था।

बिग थ्री यूएस ओपन के क्वार्टर फाइनल में भी नहीं पहुंचे
16 साल में पहली बार ऐसा हुआ, जब टेनिस के बिग थ्री नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर और राफेल नडाल किसी ग्रैंड स्लैम के क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंचे। इससे पहले, 2004 के फ्रेंच ओपन में यह तीनों क्वार्टर फाइनल नहीं खेले थे। तब फेडरर को तीसरे दौर के मुकाबले में गुस्तावो कुएर्टन ने हराया था।

बिग थ्री ने कुल 56 ग्रैंड स्लैम जीते
टेनिस के बिग थ्री ने बीते 17 साल में कुल 56 ग्रैंड स्लैम जीते हैं। 2016 में आखिरी बार ऐसा हुआ था, जब इन तीन बड़े खिलाड़ियों के अलावा अन्य किसी प्लेयर ने ग्रैंड स्लैम जीता था। तब स्टैन वावरिंका यूएस ओपन चैम्पियन बने थे। पिछले 13 ग्रैंड स्लैम खिताब इन्हीं तीनों खिलाड़ियों के नाम रहे हैं।

0


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *