शिक्षा पर 18 फीसदी जीएसटी सही नहीं, एसएफआई ने शिक्षा मंत्री काे सौंपा ज्ञापन

Posted on

शिमला18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

एसएफआई कार्यकर्ता शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर को ज्ञापन सौंपते हुए।

एसएफआई ने शिक्षा पर लगाए गए 18 फीसदी जीएसटी का विराेध किया है। एसएफआई शिमला जिला इकाई द्वारा ज्ञापन के माध्यम से शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के समक्ष बात रखते हुए कहा है कि देश और प्रदेश के अंदर कोविड -19 के चलते छात्रों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है। शिक्षा पर 18 फीसदी जीएसटी लगाया है, वह गलत है।

जिलाध्यक्ष अनिल ठाकुर का कहना है कि दूसरी तरफ हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा भी शिक्षा नीति को जल्दबाजी में प्रदेश के अंदर लागू करने की कोशिश की जा रही है। एसएफआई प्रदेश सरकार से और शिक्षा मंत्री से मांग करती है कि वह राष्ट्रीय शिक्षा नीति को जल्दबाजी में लागू न करें। इसके साथ साथ एसएफआई शिमला जिला इकाई ने प्रदेश के अंदर एकमात्र उत्कृष्ट महाविद्यालय संजौली में गर्ल्स हॉस्टल की मांग को सामने रखा।

प्रदेश में सभी निजी यूनिवर्सिटीज की जांच हाे

एबीवीपी ने निजी यूनिवर्सिटीज के रिकाॅर्ड की सही से जांच की मांग की है। एबीवीपी के प्रांत मंत्री राहुल राणा का कहना है कि बहुचर्चित चार लाख फर्जी डिग्री मामले में फंसे मानव भारती विश्वविद्यालय के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ( ईडी ) ने इन्फोर्समेंट केस इन्फॉर्मेशन रिपोर्ट ( ईसीआईआर ) दर्ज कर ली है। ईसीआईआर दर्ज करने के साथ ईडी ने मामले की नियमित जांच शुरू कर दी है। ऐसे में अब अन्य यूनिवर्सिटीज की भी जांच हाेनी चाहिए।

0


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *